IIT Bombay ने एक बहुत बड़ी फैसला की है

अफगानिस्तान में क्राइसिस चल रही है, जिसके कारण मुंबई आईआईटी ने एक बहुत बड़ी फैसला की है. उन्होंने यह फैसला लिया है कि जो 11 स्टूडेंट आईआईटी मुंबई मैं पढ़ रहे हैं, उनको ना तो सिर्फ हॉस्टल की सुविधा दी जाएगी बल्कि, उनको स्कॉलरशिप भी दी जाएगी.

जी न्यूज़ के एक इंटरव्यू में मुंबई आईआईटीके डायरेक्टर शुभाशीष चौधरी ने कहा , की हालातों को ध्यान में रखते हुए बच्चों को सुविधा दी जाएगी, अगर किसी बच्चे के लिए इस साल अपना पढ़ाई लिखाई मैं कोई भी असुविधा हुई तो दूसरे तरीके से उनको मदद मिलेगी.

उन्होंने यह भी कहा कि हालांकि अफगानिस्तान में चल रही है सिविल वार, पर उसके वजह से बच्चों का भविष्य खराब नहीं होना चाहिए.

मुंबई आईआईटी में कुल मिलाकर 11 स्टूडेंट अफगानिस्तान से है, जिसमें से 9 स्टूडेंट घर चले गए हैं कोविड-19 की वजह से और ऑनलाइन ही क्लास करते हैं.

चौधरी ने यह भी कहा,” कि 2 बच्चे अभी भी आईआईटी के उधर है, और उधर ही पढ़ाई कर रहे हैं पर बाकी 9 बच्चों का क्या. क्योंकि काबुल यार फोटो भी बंद कर दिया गया है तो वह लोग वापस लौट भी नहीं सकते. इस हालत में वह बच्चे कैसे आएंगे iit-bombay में इसका उत्तर किसी के भी पास नहीं है”.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.