Himanshi gandhi death case :Motivational यू-ट्यूबर हिमांशी गांधी suicide case में नया मोड़

हिमांशी गांधी एक यूट्यूब पर थी, जो अपने यूट्यूब पर मोटिवेशनल वीडियो डाल दी थी पर उनका मौत कोई कुछ दिन पहले. शुक्रवार शाम को हिमांशी की बॉडी मिली यमुना नदी में जैसे ही पुलिस को खबर मिली पुलिस आकर बॉडी पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. इन्वेस्टिगेशन के बाद पुलिस ने कहा कि हिमांशी ने सुसाइड किया है यमुना में छलांग लगाकर.

आगे जाकर इन्वेस्टिगेशन के बाद और भी पता चला कि हिमांशी ने अपने कुछ दोस्तों को दोषी ठहराया है उनके मौत के लिए और यह सब बता चला है व्हाट्सएप चैट से. व्हाट्सएप चैट से पता चला है कि हिमांशी अपने दोस्त के साथ बात कर रही थी जिधर उन्होंने अपने दोस्त आयुष और कुछ और लोगों को दोषी ठहराया है.

सभी व्हाट्सएप चैट जून के 24 तारीख के 2.26 pm से लेकर 3 बजे तक हुई है. उसके बाद हिमांशी सिग्नेचर ब्रिज तक पहुंची ऑटो से. हिमांशी के मौत के बाद हिमांशु के घर वाले आयुष नाम के लड़के को दोषी कहां है हिमांशी के मौत के लिए. अभी पुलिस ढूंढ रही है कि किस बात को लेकर झगड़ा हो रही थी हिमांशी और आयुष के बीच.

व्हाट्सएप चैट में और भी एक लड़के का नाम पाया गया है जिसका नाम सचिन है. खबर के मुताबिक हिमांशी ने चैट में लिखी है कि,’ सभी को पता है कि मेरी तबीयत अच्छी नहीं है फिर भी सभी मेरे साथ ऐसे पेश आ रहे हैं. मैं यह सब और नहीं देख सकती’.

‘ मेरी बैग भेज दो मैं इधर से जा रही हूं तुम लोग एक साथ बहुत अच्छे कर रहे हो. आज अंतिम दिन है जब मुझसे प्यार करने वालों ने मुझको देखा मैं मेरे जिंदगी को अभी के अभी खत्म करने वाली हो.’

हिमांशु के घर घरवाले चौक के हैं, इस घटना के बाद घर वालों का एक ही चीज कहना है कि उनके बेटी कभी भी सुसाइड नहीं कर सकती. हिमांशी के पापा कहने लगे कि जो दूसरों को मोटिवेट करते हो अपने वीडियो से वह कैसे अपने आप को खत्म कर सकती है सुसाइड करके.

Source-amarujala

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.