Ghum Hai Kisi key Pyaar Meiin 20th May 2021: Bhavani Ask devyani For A Hug

साईं देवयानी को कहती है कि उनके बेटी अभी भी जिंदा है. पुलकित कहते हैं कि यह नहीं हो सकता है क्योंकि उनके बेटी गुजर गई थी. फिर वह फेसबुक दिखाती है उनको और उनको पता चलता है कि उनके बेटी जिंदा है. ओंकार और निनाद ने उनको पाला है.

पुलकित बहुत खुश हो जाते हैं इस खबर से. बाद में वह दिव्यानी से मिलने आते हैं, तो परिवार के लोग उनको धमका कर बाहर निकाल देते हैं कहते हैं कि दिव्यानी उनके बिना बहुत खुश है अगर उन्होंने उनको तकलीफ पहुंचाने की कोशिश की तो वह उनको पुलिस के हवाले कर देंगे.

पुलकित उधर से चले जाते हैं और माधुरी के साथ हरिणी को लाने जाते हैं. बहुत कोशिशों के बाद वह सफल होते हैं. साईं पूछती है भवानी से की कि वह पुलकित को अपना नहीं कर लेती.

भवानी कहती है कि जिस दिन उनके बेटी दिव्यानी ने पुल किस से शादी की थी उसी दिन उन्होंने उनको त्याग दिया थे. साईं पूछते हैं कि वह पुलकित को क्यों एक बार मौका नहीं देती है ?

भवानी कहती है क्योंकि लोग बहुत जल्दी बदलते हैं, वह कहने लगती है कि दिव्यानी बहुत नाजुक है यह भी हो सकता है कि पुलकित उनको छोड़कर चले जाए कोई दूसरी औरत के लिए.

साईं कहती है कि सभी को एक दिन ना एक दिन गुजर जाना है इस पृथ्वी से इसका मतलब यह नहीं कि वह चलना बंद कर दे. भवानी चुपचाप बैठी रहती है.

उधर दिव्यानी रोने लगती है विराट उनके लिए तो फैलाते हैं और वह खुश हो जाती है. मोहित आकर कहते हैं विराट को की देखने के लिए किस साईं क्या कर रही है.

पाखी आकर विराट से पूछती है कि अगर विराट इतना भरोसा करते हैं साई पर फिर साई क्यों नहीं बना पा रहे हैं घर वालों को. पुलकित कहते हैं कि उनको उस घर से चले जाना चाहिए साईं कहते हैं कि वह खाना ना खा के उस घर से नहीं जा सकते.

पाखी कहती है कि साईं सिर्फ अपने बारे में सोचती है. पुलकित कहते हैं कि उनको उस घर से चले जाना चाहिए उन लोगों ने उनको बुलाया उस घर में वही बहुत है.

दिव्यानी भी सपोर्ट करती है वह कहती है वह उनके पति का अपमान और नहीं देख सकती. वह लोग जाने ही वाले होते हैं जब पीछे से भवानी बुलाती है दिव्यानी को और कहती है कि क्या वह अपने मम्मी को एक बार गले भी नहीं लगाएगी.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.