Ghum Hai Kisi Ke Pyar Meiin :Bhavani’s Truth Exposed In Front Of Chavan Family

साई और विराट ने ठीक किया है कि पूरे परिवार के सामने वह लोग दिव्यानी की बेटी हरिणी को लाएंगे.

साईं ठीक करती है कि वह हरिणी का जन्मदिन सेलिब्रेट करेंगे पूरे परिवार के साथ..

वह हरिणी के बारे में भवानी को पूछती है सभी के सामने, भवानी बहाने बनाने लगती है कि सारी कुछ ना कुछ रोज लेकर आती है.

पूरे परिवार देखते रहते हैं साई और भवानी के तरफ ताकि उनको पता चले हरिणी कौन है.

विराट सच कह नहीं जाता है कि साई उनको रूकती है. साईं कहती है कि जो उस घर का सबसे बड़ी है वही कहेगी सच.

साईं भवानी से कहती है कि वह 3 तक गिरेगी अगर उन्होंने ठीक तरीके से नहीं बताएगी हरि ने कौन है तो वह सच सबके सामने कह देगी.

फिर साई कहती है कि, असल में भवानी,निनाद और ओमकर सालों पहले हरिणी को अनाथ आश्रम में छोड़ कर आए थे.

साईं कहती है कि सिर्फ यही नहीं वह लोग यह बात सिर्फ घरवालों से नहीं बल्कि दिव्यानी से भी छुपाए थे.

बीच में पाखी आती है समझाने के लिए वह कहती है उनको सब सच बता है.

वह कहने लगती है कि पुलकित और देवयानी के शादी के बारे में किसी को पता नहीं था, जिसके कारण से उन्होंने यह काम किया.

विराट यह सब सुनने से मना कर देते हैं और भवानी के ऊपर गुस्सा करते हैं इतना बड़ा सच छुपाने के लिए.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.